जनवरी 02, 2017

टाटा ऑटोकॉम्प ने टाइटनएक्स इंजन कूलिंग का अधिग्रहण पूरा किया

गोथेनबर्ग / पुणें: वैश्विक रूप से विस्तार की और कूलिंग व उत्सर्जन नियंत्रण सेगमेंट में अपनी उपस्थिति मजबूत करने अपनी रणनीति के अनुरूप, एक अग्रणी ऑटो-घटक कंपनी टाटा ऑटोकॉम्प सिस्टम्स ने एक अग्रणी वैश्विक इंजन कूलिंग सप्लायर टाइटनएक्स – के अधिग्रहण के पूरा होने की घोषणा की।

इस अवसर पर बोलते हुए प्रवीर केडला, चेयरमैन, टाटा ऑटोकॉम्प सिस्टम्स ने कहा: “टाइटनएक्स के सफल अधिग्रहण के साथ, हम टाइटनएक्स की उस वैश्विक उपस्थिति का लाभ लेने के लिए उत्सुक हैं जो हमारी पूर्व परिभाषित वैश्विक विकास की रणनीति में अच्छी तरह से फिट होती है। यह अधिग्रहण उन समाधानों को प्रदान करने की हमारी प्रतिबद्धता को और अधिक मजबूत करता है जो वैश्विक ग्राहकों की बदलती जरूरतों को पूरा करेगा। बेहतर उत्पादों व सेवाओं को प्रस्तुत करना हमारी ताकत है और हमें विश्वास है कि यह अधिग्रहण, ऑटोमोटिव उद्योग के लिए विश्वस्तरीय उत्पादों व सेवाओं को प्रदान करने में सहायक होगा।

अजय टंडन, एमडी व सीईओ, टाटा ऑटोकॉम्प सिस्टम्स ने कहा: “टाइटनएक्स का अधिग्रहण भारत के बाहर हमार वाणिज्यिक वाहन ग्राहकों को हमारे प्रस्तावो को बेहतर करने में और मजबूती देने में सहायक होगा। टाइटनएक्स के इस अधिग्रहण के माध्यम से हमारे वैश्विक ग्राहकों के लिए अभिनव उत्पादों व समाधानों के नए युग में प्रवेश करने के लिए, हमारे पास स्तर, पोर्टफोलियो तथा जरूरी संसाधन उपलब्ध होंगे। भारत में हमारे पास टाटा टोयो रेडिएटर है, जो कि टीआरएडी, जापान के साथ एक संयुकत् उपक्रम है, जो भारत में इसके ग्राहकों को सेवा देना जारी रखेगा।”

स्टीफन नॉर्डस्ट्रॉम, सीईओ, टाइटनएक्स, ने कहा: “हम अपने नए मालिक टाटा ऑटोकॉम्प सिस्टम्स लिमिटेड के साथ काम करने के लिए उत्सुक हैं और हमे विश्वास है कि उनके दीर्घकालीन रणनीतिक विचार हमें हमारी प्रगति की रणनीति में अगले चरण उठाने म सक्षम करेगी। अपने ग्राहकों के लिए उन्नत पावरट्रेन समाधान के वैश्विक साझीदार के रूप में हमारी भूमिका को और पुष्ट करने के लिए हम प्रतिबद्ध हैं।”

भौगोलिक रूप से उत्तरी अमरीका, दक्षिण अमरीका, यूरोप तथा चीन में फैली व लगभग $200 मिलियन वाली, टाइटनएक्स एक इंजन व पावरट्रेन कूलिंग समाधान प्रदाता होने के साथ-साथ वाणिज्यिक वाहन उद्योग की प्रमुख सप्लायर है। टाइटनएक्स, ईक्यूटी ऑपरचुनिटी और फोरियरट्रांसफार्म के स्वामित्व में थी।

विक्रेताओं को बीडीए पार्टनर्स द्वारा और टाटा ऑटोकॉम्प को टाटा कैपिटल इनवेस्टमेंट बैंकिंग द्वारा सलाह प्रदान की गयी है।