अप्रैल 08, 2018

टाटा केमिकल्स ने 123 करोड़ रु. मूल्य के अलायड सिलिका हासिल किए

स्पेशियलिटी सिलिका बिजनस की संवृद्धि हेतु अग्रसर

मुंबई: टाटा केमिकल्स ने अलायड सिलिका के साथ प्रेसिपिटेटेड सिलिका का उनका बिजनस हासिल करने के लिए स्लंप सेल आधार पर 123 करोड़ रु. के एक बिजनस ट्रांसफर एग्रीमेंट पर हस्ताक्षर किए। यह समझौता तीम महीनों में पूरा हो जाएगा ऐसी उम्मीद है। यह अधिग्रहम बोर्ड द्वारा 2017 में इस स्पेशियलिटी बिजनस के लिए दी गई 295 करोड़ रु. की मंजूरी का एक अंग है।

इस समझौते में शामिल तमिलनाडु में मौजूदा निर्माण संयंत्र का अधिग्रहण जिसमें हाइली डिपर्सिबल सिलिका (HDS) का उत्पादन किया जाएगा। स्पेशियलिटी केमिकल उत्पाद टाटा केमिकल सोडा एश बिजनस में एक डाउनस्ट्रीम वैल्यू एडिशन को दर्शाता है जहां इसकी स्थिति दुनिया भर के निर्माताओं में अग्रणी है।

कंपनी के इस कदम पर बोलते हुए टाटा केमिकल्स के मैनेजिंग डायरेक्टर आर मुकुंदन ने कहा, ‘हमारी मूल क्षमताओं का लाभ उठाते हुए बड़ी ग्राहक केंद्रितता के साथ तकनीकी रूप से सक्षम, विभेदीकृत व्यवसाय के निर्माण की हमारी यात्रा में यह अधिग्रहण एक अन्य महत्वपूर्ण कदम है। स्पेशियलिटी और परफॉर्मेंस सिलिका का निर्माण ऐसा ही एक क्षेत्र है। यह हमारे कंज्यूमर बिजनस के साथ हमारे स्पेशियलिटी बिजनस को बढ़ाने पर हमारे फोकस के अनुरूप है।’

प्रेसिपिटेटेड सिलिका एक बहूपयोगी उत्पाद है जिसका इस्तेमाल बहुत से रबड़, ओरल केयर, कोटिंग तथा कृषिरसायनिक उद्योगों में किया जाता है। यह अधिग्रहण उच्च निष्पादन वाले अनुप्रयोगों के लिए भविष्य में वैल्यू एडेड सिलिका के निर्माण की संभावना प्रदान करता है।

HDS के निर्माण की तकनीक, जिसके लिए आठ पेटेंट पहली ही दाखिल किए जा चुके हैं, कंपनी के पुणे स्थित इनोवेशन सेंटर में विकसित किए गए हैं।