जुलाई 13, 2017

टाटा सन्स ने नए समूह मुख्य डिजिटल अधिकारी की नियुक्ति की घोषणा की

मुंबई: टाटा सन्स ने आज टाटा समूह के मुख्य डिजिटल अदिकारी के रूप में आरती सुब्रामणियम की नियुक्ति की घोषणा की। सुश्री सुब्रामणियम, अपनी भूमिका में एन चंद्रशेखरन, कार्यकारी चेयरमैन टाटा सन्स को रिपोर्ट करेंगी।

वैश्विक प्रौद्योगिकी क्षेत्र में 26 बरसों के अनुभव वाली पेशेवर, सुश्री सुब्रामणियम ने अपने कैरियर की शुरुआत टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेस (टीसीएस) से की और भारत, स्वीडन, यूएस व कनाडा मे विविधतापूर्ण भूमिकाओं को निभाया, जिसके माध्यम से उन्होने कंसल्टिंग इंगेजमेंट्स तथा बड़े-स्तर के प्रौद्योगिकी प्रोजेक्ट्स के निष्पादन के साथ-साथ ऑपरेशंस व प्रोग्राम प्रबंधन में समृद्ध अनुभव हासिल किया। 

वर्तमान में वे टीसीएस की कार्यकारी निदेशक हैं, जो कि कंपनी के डिजिटल प्रक्षेपण को हासिल करने तथा ग्राहक भागीदारी व डिलेवरी गवर्नेंस में उत्कृष्टता हासिल करने के लिए उत्तरदायी हैं। वे टीसीएस में डिजिटल, एजाइल तथा परिचालन उत्कृष्टता जैसी प्रमुख पहलों का नेतृत्व करने के लिए भी उत्तरदायी रही हैं। सुश्री सुब्रामणियम गैर-कार्यकारी निदेशक के रूप में टीसीएस के बोर्ड को सेवाएं देना जारी रखेंगी।

श्री चंद्रशेखरन, कार्यकारी चेयरमैन, टाटा संस ने कहा, “ग्राहक सेवा डिलेवरी में उत्कृष्टता हासिल करने के लिए बड़ी टीमों का सफलता के साथ नेतृत्व करने में आरती का ट्रैक रिकॉर्ड बेहतरीन रहा है औऱ वह ग्राहकों के लिए अग्रसक्रिय रूप से मूल्यवर्धन करने की मजबूत एडवोकेट रही हैं। समूह की डिजिटल चीफ अधिकारी के रूप में वह समूह की कंपनियों में डिजिटल अनुकूलन हासिल करने के साथ-साथ समूह की डिजिटल पहलो में प्रमुख भूमिका निभाएंगी। अनेक वर्षों तक आरती के साथ करने के कारण मुझे पता है कि उनका अनुभव और प्रतिबद्धता टाटा समूह को डिजिटल अर्थव्यवस्था में उठने के लिए तैयार करने में बहुत मूल्यवान साबित होगा।

“चंद्रा के नेतृत्व में फिर से काम करने का अवसर हासिल करके मैं बहुत प्रसन्न हूँ। टाटा समूह एक विशिष्ट संस्थान है जिसकी महान शक्ति है और इस समूह को ऐसे अनेक नए आर्थिक अवसरों को पकड़ने में सहायता करने का मेरा प्रयास होगा जो डिजिटल अर्थव्यवस्था में उभर रहे हैं,” सुश्री सुब्रामणियम ने कहा।

सुश्री सुब्रामणियम, राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान, वारंगल, भारत की कम्प्यूटर विज्ञान की स्नातक हैं तथा नके पास कैनासस विश्वविद्यालय, यूएस से इंजीनियरिंग प्रबंधन में मास्टर डिग्री है।

वे अगस्त 2017 से नई भूमिका के निर्वहन की शुरुआत करेंगी।