जुलाई 05, 2017

टाटा सन्स की ओर से जारी बयान

मुंबई: टाटा संस, श्री सायरस पी, मिस्त्री के उस बयान को कठोरता से अस्वीकार करती है जिसमें श्री आर वेंकटरमनन द्वारा एयर एशिया इंडिया के मामलों में गलत काम किए जाने की बात कही गयी है। इसके विपरीत, टाटा संस के सपोर्ट से एयर एशिया इंडिया ने सिविल तथा क्रिमिनल दोनो कोर्ट में निश्चित कदम उठाए हैं जिसने एसपी कंपनी समूह द्वारा एनसीएलटी कार्रवाइयों में शरारतपूर्ण आरोपों के संबंध में स्थिति को स्पष्ट कर दिया है।

किन्ही आरोपों के विपरीत, टाटा संस ऐसे किसी आचार से इंकार करती है जो दमनकारी या कुप्रबंधन के परिणामी हो सकते हों। टाटा संस का विचार यह है कि श्री साइरस पी मिस्त्री तथा एसपी समूह द्वारा लगाए गए तुच्छ आरोप विघटनकारी हैं।

यह विडंबना ही है कि श्री साइरस पी मिस्त्री ने यह कहना जारी रखा है कि उनकी गतिविधियां टाटा समूह के हित में हैं। इसके विपरीत उनकी गतिविधियां अभी तक टाटा समूह की साख को लगातार हानि पहुंचा रही हैं। टाटा संस इस संबंध में कानूनी विकल्पों का मूल्यांकन कर रही है। टाटा संस का न्यायपालिका में उच्चतम सम्मान है और श्री साइरस पी मिस्त्री के आरोपों के अनुसार इसने कभी भी “कानूनी कार्रवाई को बाधित नहीं किया है”।